घर भी कुछ कहता है…

शाहरुख़ की नई मूवी का गाना सुना और पहली ही बार सुनने पर लगा कि घर पर रहने वाले लोगों… या यूँ कहें कि जिन्हें छोड़ कर चले जाते हैं उन लोगों की इतनी ज़िम्मेदारी तो बनती ही है कि वो जाने वालों के घरों को सहेज़ के रख सकें… निकाल सकें उनके लिए एक …

फ़रिश्ते

जब कोई कहता था मुझसे कि उसने फ़रिश्तों को देखा है, मैं उसका मज़ाक बनाया करती थी हर बात को हँसी में उड़ाया करती थी कोई चाहे और फूल खिले, ऐसा थोड़ी ना होता है?  कोई हँसे तो बारिश हो, ऐसा थोड़ी ना होता है?  कोई उदास हो और बदरी छाए ऐसा थोड़ी ना होता …

वो चाहता है

वो चाहता है मैं उसे लिखूँ,  और नाम इश्क़ का आये नहीं..  वो चाहता है उसकी धड़कनें लिखूँ और मोहब्बत का ज़िक्र आये नहीं जो इश्क़ सा खुद महकता है उसे इत्र के जैसा लिख तो दूँ.. पर वो चाहता है इश्क़ से इतर उसे अलग नज़र से लिखूँ मैं… कोई कहो उसे कि खुदमें …

5. When you want to hide behind the tags

Hey, I absolutely get this feeling. Sometimes, our names are just not enough. We need tags. We need new words we can hide behind. You remember the time when I invented a word to describe myself? DEMOTIONAL. You remember its meaning? “Deeply emotional and strangely detached.” As long as you don’t lose the faith and …

Hi Shah Rukh…

Dearest Shah Rukh, This dates back to 31 years ago when you first entered Bollywood. Coincidently, the same year I was born. We were meant to be friends. Shah, So.. How do I even begin this? I don’t know.. How will we know the difference in between reality and fiction? Probably we never will. And …